Marathan Logo Facebook Logo UK NERS Logo Twitter Logo Youtube Logo Live webcast of visit of hon'ble President of India to National Police Memorial(NPM) on the occastion of CRPF Valour Day, April 9,2019, at Chanakyapuri, New Delhi

Get Help

Women's Helpline Toll Free Number(For Uttarakhand)
-1090
Women's Helpline Toll Free Number(For Other States)
-18001804111
SMS Service Number
-9411112780

Emergency Numbers

Police Control Room
-112
Fire Brigade
-101
Emergency Medical
-102

Photo Gallery

DY.SP PASSING OUT PARADE-2019 (click to view enlarge)
view photo gallery
National Voter's service Portal

Uttarakhand Goverment Portal, India (External Website that opens in a new window)

The Portal of India (External Website that opens in a new window)

Hit Counter 0005582441 Since: 03-Jan-2013

चेतावनी सामूहिक भीड़ हिंसा व Lynching पर उत्तराखण्ड पुलिस सख्त

एस.डी.आर.एफ. की महत्तवपूर्ण उपलब्धियाँ

Print

1.  वर्ष 2014 में चारधाम यात्रा के सफल संचालन में महत्तवपूर्ण योगदान

2.  वर्ष 2014 में नन्दा देवी राजजात यात्रा के सफल संचालन में महत्तवपूर्ण योगदान

3.  वर्ष 2014 में एसडीआरएफ द्वारा उत्तराखण्ड जनपद के विभिन्न जनपदों उत्तरकाशी, रूद्रप्रयाग, चमोली, देहरादून, पौडी गढवाल व टिहरी गढवाल में कुल 17 रेस्क्यू ऑपरेशन किये गये जिसमे 212 व्यक्तियो को रेस्क्यू किया गया तथा 17 व्यक्तियों के शवो को निकाला गया।

4.  माउण्ट भागीरथी-द्वितीय (ऊॅचाई 21364 फीट) का सफल आरोहण।

5.  वर्ष 2015 में एसडीआरएफ द्वारा वर्तमान समय तक उत्तराखण्ड जनपद के विभिन्न जनपदों में कुल 34 सर्च एवं रेस्क्यू ऑपरेशन किये गये जिसमे चारधाम यात्रा सहित कुल 6802 तीर्थयात्रियों /व्यक्तियो को रेस्क्यू किया गया तथा 07 व्यक्तियों के शवो को निकाला गया।

6.  दिनांक 27.05.2015 को एसडीआरएफ उत्तराखण्ड पुलिस की 21 सदस्यीय टीम मिशन भागीरथी हेतु रवाना हुई थी। टीम द्वारा अत्यन्त विषम परिस्थितियों में दिनांक 09.06.2015 को समय 08:45 पर माउण्ट भागीरथी द्वितीय (ऊॅचाई 21364 फीट) पर राष्ट्रीय ध्वज फहरा कर सफल आरोहण किया गया। यह एसडीआरएफ उत्तराखण्ड पुलिस माउटेंनियरिंग टीम द्वारा प्रथम अभियान रहा। माउण्ट भागीरथी द्वितीय उत्तराखण्ड राज्य के जनपद उत्तरकाशी में गंगोत्री क्षे़त्रान्तर्गत स्थित है। वर्ष 1933 में सर्वप्रथम इस पर्वत पर अन्र्तराष्ट्रीय पर्वतारोही दल द्वारा आरोहण किया गया।

7.  दिनांक 18 मई 2017 को एसडीआरएफ की 17 सदस्य हाई एल्टिट्यूड रेस्क्यू टीम को सतोपन्थ पर्वत हेतु रवाना हुई। दिनांक 10 जून 2017 को एसडीआरएफ की हाई एल्टिट्यूड रेस्क्यू टीम द्वारा, सतोपन्थ पर्वत (ऊचांई 23263 फीट/7075 मीटर) का सफलतापूर्वक आरोहण किया गया, जो कि उत्तराखण्ड पुलिस के इतिहास में किसी टीम द्वारा प्रथम बार 7000 से अधिक ऊंचाई वाली चोटी का आरोहण किया गया कार्य है। जिसके फलस्वरूप एसडीआरएफ  द्वारा अत्यन्त कठिन उच्च तुंगता वाले क्षेत्रों में भी रेस्क्यू कार्य किये जाने में दक्षता प्राप्त कर ली गयी है।

8.  दिनांक 29 मार्च 2018 को उत्तराखण्ड पुलिस का 15 सदस्यीय दल एवरेस्ट आरोहण हेतु रवाना हुआ। लगभग 55 दिन की यात्रा के दौरान टीम ने लोबचे ईस्ट पीक, काला पत्थर शिखर को फतह किया और अंतिम चरण में 08 सदस्यों द्वारा दिनांक 20 एंव 21 मई को सागरमाथा शिखर पर तिरंगा फहरा कर सफल आरोहण किया तथा माउण्ट एवरेस्ट का सफलतापूर्वक आरोहण कर एसडीआरएफ उत्तराखण्ड पुलिस देश की प्रथम राज्य पुलिस बनी।

गठन के पश्चात एसडीआरएफ के अधिकारी/कर्मचारी को उनके सराहनीय सेवा व कार्यो हेतु निम्न पुरस्कारों द्वारा राज्य सरकार द्वारा सम्मानित किया गया

  1.
मा.राष्ट्रपति का पुलिस पदक                                   
          01        
  2.  
मा.मुख्यमंत्री का सराहनीय पदक   
                03               
  3. मा.राज्यपाल का उत्कृष्ट सेवा पदक  
                01               

  4.

सराहनीय सेवा सम्मान चिन्ह    
                31