Print Good Work Dt 25 Sept.2020

कोतवाली ऋषिकेश में शिकायतकर्ता चंदा साहनी पत्नी श्री जितेंद्र साहनी निवासी चंद्रेश्वर नगर मायाकुंड ऋषिकेश  के द्वारा एक गुमशुदगी के संबंध में प्रार्थना पत्र दिया कि मेरा भाई अमरजीत साहनी पुत्र जीवन साहनी उम्र 32 वर्ष दिनांक 18 सितंबर 2020 की शाम 3:00 बजे अपने दो अन्य साथियों के साथ काम पर गया था, जो अभी तक वापस नहीं आया है। जबकि दोनों साथी वापस आ गए हैं। उक्त संबंध में उसके साथियों व अपनी भाभी से पूछा तो कुछ भी नहीं बता रहे हैं। हमें शक है कि मेरा भाई किसी दुर्घटना का शिकार न हो गया हो। शिकायतकर्ता के उक्त प्रार्थना पत्र पर कोतवाली ऋषिकेश में तत्काल गुमशुदगी पंजीकृत कर विवेचना प्रारंभ की गई। पुलिस उप- महानिरीक्षक/ वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जनपद देहरादून के द्वारा तत्काल गुमशुदा की बरामदगी हेतु टीम गठित कर आवश्यक कार्रवाई करने हेतु आदेशित किया।   उक्त आदेश के अनुपालन में पुलिस अधीक्षक देहात व क्षेत्राधिकारी ऋषिकेश के द्वारा प्रभारी निरीक्षक कोतवाली ऋषिकेश महोदय के निर्देशन में टीम गठित कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए। गठित टीम द्वारा गुमशुदा व्यक्ति के संबंध में परिवार जनों से पूछताछ की गई। पुलिस टीम द्वारा जांच के दौरान यह सामने आया कि  गुमशुदा की पत्नी का गुमशुदा के साथी के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा है। जिसकी जानकारी उसके पति को हो गई थी,  जिस पर पुलिस द्वारा उसकी पत्नी व साथियों को थाने बुलाकर सख्ताई से पूछताछ की गई। जिसपर गुमशुदा की पत्नी व गुमशुदा अमरजीत के साथियों द्वारा योजना बनाकर गुमशुदा अमरजीत साहनी की हथोड़ा मार कर हत्या करने का अपराध स्वीकार किया व गुमशुदा के शव को जंगलात बैरियर से आगे जंगल में झाड़ियों में छिपाना बताया गया। जिनकी निशानदेही पर गुमशुदा व्यक्ति के मृतक शरीर व हत्या में प्रयुक्त हथौड़े को घटनास्थल से बरामद कर लिया गया है।

Published On: 25-09-2020