Print Good Work Dt 28 july 2020

थाना नेहरू कॉलोनी पर श्रीमती बीना डबराल, अधीक्षक बालिका निकेतन केदारपुरम, देहरादून द्वारा तहरीर दी गई कि बालिका निकेतन से एक बालिका बिना बताए प्रातः 10:00 बजे कहीं चली गई है।  वादिनी की तहरीर के आधार पर गुमशुदगी पंजीकृत की गई।  गुमशुदा की बरामदगी हेतु नेहरू कॉलोनी द्वारा दिनाक 26 जुलाई को रेलवे स्टेशन से सकुशल बरामद किया गया था। जिसके द्वारा पूछताछ में बताया कि वह अपनी मर्जी से मौका देख कर नारी निकेतन से भाग गई थी एवं वह दिल्ली अपने माता पिता के पास जाना चाहती थी किंतु पैसे ना होने के कारण वह आसपास छुपी रही, इसी बीच 24/07/2020 की रात्रि में हर्रावाला रेलवे स्टेशन के पास एक लड़के द्वारा उसके साथ शारीरिक संबंध बनाए गए।  गुमशुदा नाबालिग बालिका के बयानों के आधार पर थाना नेहरू कॉलोनी पर गुमशुदगी को धारा 376 आईपीसी व 3/4 पोक्सो एक्ट में तरमीम कर दर्ज किया गया था।                                           उक्त बालिका के साथ बलात्कार जैसे संगीन वारदात एवं अज्ञात अभियुक्त की तलाश करने के लिए पुनः नेहरू कॉलोनी पुलिस टीम को तुरंत कार्रवाई के निर्देश दिए गए, जिसके क्रम में नेहरू कॉलोनी पर थानाध्यक्ष नेहरू कॉलोनी के नेतृत्व में टीम गठित कर पुनः गुमशुदा बालिका से विश्वास में लेकर तसल्ली से पूछताछ की गई ,पूछताछ में उक्त बालिका द्वारा बताया गया कि जिस अभियुक्त ने उसके साथ बलात्कार किया था, उसने अपना नाम भी उक्त बालिका को बताया था एवं जिस कस्बे का रहने वाला था, उस कस्बे का नाम भी बताया था एवं अपना मोबाइल नंबर दिया था। अज्ञात द्वारा दुराचार करने के पश्चात बालिका को लालच दिया गया कि वह दिल्ली वाली गाड़ी में बिठा दूंगा एवम उसे  कुछ पैसे भी देगा। घटना के दिन अज्ञात द्वारा रुपये 200 दिए थे। दिनांक 25 जुलाई को उक्त बालिका द्वारा एक राह चलते व्यक्ति के मोबाइल से इसी अज्ञात दुराचार के आरोपी से बात की गई एवं उसे आने को कहा, जिस पर अज्ञात दुराचारी द्वारा पैसे ना होने का हवाला देते हुए दिल्ली छोड़ने के लिए मना कर दिया गया था, जो नंबर आरोपी ने उक्त महिला को दिया था, उस नंबर की पुलिस द्वारा आईडी निकालकर तलाश किया गया एवं जिस कस्बे का आरोपी होना बताया, उस कस्बे में पुलिस टीम द्वारा लगातार मुखबिर मामूर किए गए एवं  दौराने विवेचना उस अज्ञात राह चलते व्यक्ति से भी पुलिस टीम का संपर्क हो गया, जिसने उक्त बालिका को अपना फोन उक्त अज्ञात लड़की को कॉल करने के लिए दिया था, मोबाइल नंबर एवं नाम एवं कस्बे के आधार पर पुलिस टीम द्वारा युवती से दुराचार करने वाले अज्ञात को पुलिस संरक्षण में लिया गया जो की विधि विवादित किशोर निकला। उक्त विधि विवादित किशोर को बाल कल्याण अधिकारी पुलिस संरक्षण में लेकर बयान अंकित किए गए, जिसने अपने द्वारा किए गए जुर्म को इक़बाल किया।  पुलिस टीम द्वारा उक्त किशोर को बाल न्यायालय के समक्ष पेश किया जा गया।


Published On: 24-07-2020