Print Good Work Dt April and May 2021

सुमना रिमझिम ग्लेशियर में रेस्क्यू 

दिनांक 23.05.2021 देर रात्रि सुमना रिमझिम में ग्लेशियर टूटने की सूचना एसडीआरएफ को प्राप्त हुई, जहां पर ग्रीफ के लगभग 300 लोग कार्यरत थे। उक्त सूचना प्राप्त होते ही जोशीमठ से एसडीआरएफ की रेस्क्यू टीम मय रेस्क्यू उपकरणों के इंस्पेक्टर हरक सिंह राणा के नेतृत्व में  तत्काल घटनास्थल के लिये रवाना हुई। रेस्क्यू टीम रात्रि में ही जोशीमठ से 31 किमी आगे ग्रीफ सेंटर सुराईथोटा पहुॅचे। इसके अतिरिक्त एक टीम अतिरिक्त सहायता हेतु रतूड़ा से जोशीमठ पहुॅची व पोस्ट सहस्त्रधारा से हैली के माध्यम से माउन्टेनियरिंग टीम मय रेस्क्यू उपकरणों व अन्य आवश्यक सामग्री के घटनास्थल के लिये रवाना हुई। टीम द्वारा घटनास्थल पर पहुॅचकर रेस्क्यू कार्य आरम्भ किया, घटनास्थल में एसडीआरएफ के अतिरिक्त आर्मी, बीआरओ, आईटीबीपी एवं ग्रीफ के जवान मौजूद थे। संयुक्त रेस्क्यू अभियान के दौरान रेस्क्यू बलों ने वर्तमान समय तक जहां अनेक घायलों को सुरक्षित निकाला वहीं 15 शवों को भी बरामद किया।  

कोविड संकटकाल में दाह संस्कार कर मानव धर्म निभाती एसडीआरएफ 

कोविड संक्रमण से असमय काल ग्रसित हुये ऐसे लोगों के शवों के दाह संस्कार की जिम्मेदारी भी एसडीआरएफ द्वारा ली गई है जिनके परिजन मौके पर उपस्थित नहीं है या फिर आने में असमर्थ है। राज्य भर में ऐसे लोगों के शवों के दाह संस्कार हेतु एसडीआरएफ उत्तराखण्ड द्वारा राज्य में 13 टीमें गठित की गयी है। एसडीआरएफ की टीमों ने कोविड संक्रमित शवों का दाह संस्कार आरम्भ कर दिया है। भारत सरकार द्वारा जारी एसओपी के नियमों का विशेष ध्यान रखते हुये सम्पूर्ण टीम मेम्बर पूर्ण सुरक्षा उपकरण धारण करने के पश्चात ही चिन्हित शमशान घाटों में शवों का दाह संस्कार कर रहे है।

एसडीआरएफ कोविड कंट्रोल रूम 

वैश्विक महामारी के प्रसार को रोकने के लिये एसडीआरएफ कंट्रोल रूम को व्यापकता दी गई है। एसडीआरएफ कंट्रोल रूम को हजारों की संख्या में संक्रमित एवं आइसोलेट हुये व्यक्तियों की जानकारी प्राप्त होती है, जिसके पश्चात कंट्रोल रूम द्वारा सभी को व्यक्तिगत रूप से काॅल की जाती है और विशेषज्ञों द्वारा तैयार प्रश्नोत्तरी के पश्चात आवश्यक होने पर मेडिकल किट उपलब्ध करायी जा रही है। इसके अतिरिक्त एक अन्य टीम हाई रिस्क व लो रिस्क आइसोलेट हुये व्यक्तियांे की पहचान कर कोविड प्रसार की कड़ी को तोड़ने के प्रयास में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे है।  

Published On: 05-05-2021